दूत–संवाद

प्रभु के दूत ने मरियम को सन्देश दिया।

और वह पवित्र आत्मा से गर्भवती हुई।

प्रणाम मरियम.........

 

देख, मैं प्रभु की दासी हूँ।

तेरा कथन मुझमें पूरा हो।

प्रणाम मरियम...........

 

और शब्द देह बना।

और हमारे बीच में रहा।

प्रणाम मरियम..........

 

हे ईश्वर की पवित्र माँ, हमारे लिए प्रार्थना कर।

कि हम खीस्त की प्रतिज्ञाओं के योग्य बन जाएं।

 

हम प्रार्थना करें :

हे प्रभु, हमने स्वर्गदूत के संदेश द्वारा तेरे पुत्र येसु खीस्त का देहधारण जान लिया।  हमारी प्रार्थना सुन ले – अपनी कृपा हमारी आत्माओं को प्रदान कर, कि हम उसी खीस्त के दु:ख और क्रूस के द्वारा पुनरूत्थान की महिमा तक पहुँच सकें।  उन्हीं हमारे प्रभु येसु खीस्त के द्वारा।  आमेन।