पवित्र क्रूस की प्रार्थना

हे वंदना योग्य, मेरे लिए क्रूस पर न्यौछावर येसु खीस्त, हे येसु के पवित्र क्रूस, मेरे मन के विचार को देख।  हे येसु के पवित्र क्रूस, हर कष्टों से मुझे बचा।  हे येसु के पवित्र हृदय, मेरे दुश्मनों के हाथों से मुझे संभालकर रख।  हे पवित्र क्रूस, अचानक और दुःखदायी मृत्यु से मेरी रक्षा कर तथा मुझे जीवन प्रदान कर।  हे क्रूस पर मरे नाज़रेत के येसु, सदा मुझपर दया कर।  हे बधाई योग्य मेरे येसु, क्रूस पर मरकर तीसरे दिन जी उठने वाले और पिता परमेश्वर से अधिकार प्राप्त करने वाले मेरे येसु आपकी बढ़ाई हो।  यह सच है कि येसु क्रिसमस के दिन गौशाले में पैदा हुए। यह सच है कि तीन राजाओं ने येसु के पैदा होने के तेरहवे दिन अपनी भेंट येसु को अर्पित की थी।  यह सच है कि येसु पुण्य शुक्रवार के दिन कलवारी पर्वत पर क्रूस पर मरे थे।  यह सच है कि येसु तीसरे दिन जी उठे थे।  इसलिये येसु को मेरा सम्मान।  मुझे मेरे दुश्मनों से संभाल और सदा के लिये मेरा येसु मुझ पर रहम करे।  माता मरियम और संत यूसुफ मेरे लिए विनती करो।  येसु के मृत शरीर को क्रूस पर से उतारने वाले एवं उसको दफनाने वाले यूसुफ और निकोदेमुस मेरे लिए प्रार्थना करो।  हे येसु आपने अपने कष्टों द्वारा इस पापी संसार को मुक्त किया है. मुझे ऐसा बल दे कि मैं अपना क्रूस शांति से उठा कर चल सँकू और तेरे कष्टों द्वारा मैं अपने ऊपर आनेवाले सारे कष्टों पर विजय पा सँकू।  आमेन्। (contributed by Mr. Prakash D'Costa)